मौसमी सर्दी , खाँसी व् जुकाम – बचाव के घरेलू उपाय

मौसमी सर्दी , खाँसी व् जुकाम – बचाव के घरेलू उपाय

आज के परिवेश में ये आम बात हो गयी हैं , जब भी मौसम बदलता हैं आपको हर कोई यही कहते हुए मिलेगा कि जुकाम हो गया हैं , खाँसी हो गया हैं | पर इसका कारण शायद ही कोई बता पाये , हर व्यक्ति यही कहेगा कि मौसम में बदलाव के कारण सर्दी , खाँसी व् जुकाम हो गया | पर क्या ये सही हैं , अगर देखा जाए तो इनको बुलावा भी हमने ही दिया हैं | आज हमारे खान – पान एवं दिनचर्या में इतना बदलाव आ चुका हैं कि हमारी शरीर की इम्युनिटी कमजोर पड़ गयी हैं |

कारण

  • सर्दी , खाँसी व् जुकाम के सबसे प्रमुख कारणों में से पहला हैं , हम सुबह में जल्दी नहीं उठते या यू कहे कि सूर्य निकलने से पहले नहीं उठते |
  • अगर हम बात करे हमारे नियमित रहने की तो शायद ही कोई होगा जो नियमित रहता होगा , या अपना काम समय से करता होगा |
  • हमारा खान – पान एवं उन्हें लेने का समय तथा भिजन करने के बाद हमारी क्रियाविधि भी हमारी इम्युनिटी को प्रभावित करती हैं |
  • हमारे दिनचर्या में फास्ट – फूड , जंक – फूड एवं कोल्ड – ड्रिंक जैसे आहार की उपस्थिति भी कई रोगों को बुलावा देती हैं |
  • हम में से अधिकांश व्यक्ति बचपन में या युवावस्था ( 25 – 30 वर्ष ) तक तो व्यायाम , जागिंग इत्यादि क्रियाएँ करते हैं , परन्तु बाद में व्यस्तता के कारण इनके लिए समय नहीं निकाल पाते | यह भी एक वजह हैं , हमारी अस्वस्थता का |

सर्दी , खाँसी व् जुकाम के घरेलू उपाय

हमारे दैनिक जीवन या हमारे किचन में ही कई ऐसी वस्तुएँ हैं , जो हमें सर्दी , खाँसी व् जुकाम से बचा सकती हैं | बस आवश्यकता हैं ,  तो उनको प्रयोग में लाने की विधि से रूबरू होने की |

प्याज

प्याज एक ऐसी वस्तु हैं , जो हर घर में मिल जाती हैं | इसमें विटामिन A , B , C , E , मिनरल्स , फालिक एसिड और नेचुरल शुगर आदि भी पाएं जाते हैं |

  • कच्चे प्याज में आर्गेनिक सल्फर यौगिक की मात्रा ज्यादा होती हैं | यह हमारे लिवर से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालने के साथ – साथ कफ को पतला करके खाँसी में आराम पहुचाता हैं |
  • कच्चा प्याज इम्युनिटी को भी बढ़ता हैं |
  • प्जाज के रस को शहद और नींबू के साथ पीने से सर्दी , खाँसी व् जुकाम में आराम मिलता हैं | आधे गिलास पानी में एक चम्मच प्याज का रस , लगभग 7 – 9 बूंद नींबू का रस तथा एक चम्मच शहद को मिलाकर पीने से राहत मिलाती हैं |
  • बारीक कटे हुए लाल प्याज को शहद में डुबा कर 10 – 15 घंटे के लिए छोड़ दे , तत्पश्चात उसे दिन में 3 – 4 बार पी ले | सर्दी , खाँसी व् जुकाम में आपको लाभ होगा |
  • गर्म पानी में बारीक कटे प्याज के टुकड़ो को उबाले एवं उसका भाप ले | यह भाप आपके नासामार्ग को साफ़ करने के साथ – साथ उसमें उपस्थित सर्दी , खाँसी व् जुकाम के जीवाणु को भी नष्ट करेगा |

अदरक 

अदरक एक प्राकृतिक औषधि हैं , जिसमें उच्च मात्रा में एंटीआक्सीडेंट पाए जाते हैं |

  • अदरक हमारे शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाकर सर्दी , खाँसी व् जुकाम से हमें बचाता हैं |
  • अदरक के अन्दर एंटीमाइक्रोवियल गुण पाया जाता हैं , जिसके कारण यह शरीर के जीवाणुओं एवं विषाणुओं को नष्ट करता हैं |
  • अदरक हमारे हृदय की पेशियों को मजबूत बनाने के साथ रूधिर परिसंचरण को भी बढाता हैं |
  • अदरक को चाय बनाते समय उसमें डाल दे एवं कम से कम पाँच मिनट बाद उसे छान ले एवं पीएं |
  • अपने भोजन एवं नाश्ते में कच्ची अदरक को पतली एक या दो स्लाइस को प्रयोग करे |

लहसुन 

लहसुन भी एक प्राकृतिक औषधि हैं , इसका उपयोग कई रोगों में किया जाता हैं |

  • हमें अपने आहार में प्रतिदिन 2.56 ग्राम इसका सेवन करना चाहिए |
  • एक चम्मच शहद के साथ एक या दो दाने लहसुन खाने से आपका इम्युनिटी भी बढ़ेगा एवं सर्दी , खाँसी व् जुकाम में लाभ होगा |
  • लहसुन की चाय : इसे बनाने के लिए 3 कप पानी में लहसुन की 3 कलियों को आधा – आधा काट कर डाल दे एवं उबाले | इसके बाद उसमें आधा कप शहद तथा आधा कप नींबू का रस बीज सहित मिलाएं एवं उबाले | अब इस चाय को दिन में कई बार पिए | आपको आराम मिलेगा |

तुलसी के पत्ते का काढ़ा 

सर्दी , खाँसी व् जुकाम में तुलसी के पत्ते को पानी में डाल कर उसमें थोड़ा गुण , एवं जवाइन डाल दे तथा उसे उबाल ले | अब इसे चान ले तथा पिए | सर्दी , खाँसी व् जुकाम से आराम मिलेगा |

गुण 

प्रतिदिन रात्रि में सोते समय एक टुकड़ा गुण का खाकर सो जाएँ , यह आपके कफ को काफी कम कर देगा |

 

also read : अच्छी नींद के लाभ – अच्छी नींद कैसे प्राप्त करें

also read : जानिए चाय के विभिन्न प्रकार एवं उन्हें बनाने के तरीके

Leave a Reply

Close Menu