गुमनाम शहीद

गुमनाम शहीद

गुमनाम शहीद

भारत माँ के आँचल तले ,

सो गये ना जाने कितने गुमनाम शहीद || 1 ||

कितने नाम , कितने चेहरे ,कितने मासूम ,

कितने वीर थे , गुमनाम शहीद || 2 ||

जंगल – जंगल , बस्ती – बस्ती ,

भटकते गुमनाम शहीद || 3 ||

कभी सीने ,  कभी पीठ पर ,

खाकर गोली विदा हो गये  , गुमनाम शहीद || 4 ||

आखिरी साँस तक लड़ते रहे ,

भारत माँ की लाज बचाते रहे , गुमनाम शहीद || 5 ||

देशवासियों के चेहरे पर इक मुस्कान के लिए ,

कतरा – कतरा खून बहा गये , गुमनाम शहीद || 6 ||

मरकर भी , अपने तन – मन को ,

भारत से जुदा न कर पाये , गुमनाम शहीद || 7 ||

मनमोहक फूलों में ,खुश्बू उड़ाती फिजाओं में ,

चमचमाती एवं टिमटिमाती , दिन – रात में ,

हमेशा अमर रहेंगे , गुमनाम शहीद || 8 ||

also read :  इतना ना मुस्कुराइए !

also read : मैं भारत , अखण्ड भारत

सपन कुमार सिंह , 20/03/2007 , मंगलवार  

Leave a Reply

Close Menu