क़दमों का रूख

मोड़ लेना , जब दिल के सागर में , तूफ़ान उठने लगे , कश्ती का रूख , किनारों की ओर मोड़ लेना रुख मोड़ लेना

0 Comments

प्रकृति का उपहार – राजदरी व् देवदरी ( चन्दौली )

प्रकृति प्रेमियों के लिए राजदरी व् देवदरी जन्नत समान हैं , यहाँ के जैसा सुन्दरतम दृश्य एवं वन - सम्पदा से परिपूर्ण कोई और स्थान नहीं हो सकता हैं | यह स्थान अपने आप में एक अलग स्थान रखता हैं | केवल यह स्थान ही नहीं अपितु यहाँ आने से पहले पड़ने वाले घनघोर जंगल के बीच से गुजरता सड़क जैसे अपनी कहानी कह रहा हो , एक कविता गुनगुना रहा हो , ऐसा मालूम पड़ता हैं | 

0 Comments

अच्छी नींद के लाभ – अच्छी नींद कैसे प्राप्त करें

आजकल के व्यस्त दिनचर्या के कार्यक्रम एवं भाग - दौड़ के कारण अक्सर नींद ना एक आम बात हो गयी हैं | हममें से अधिकांश लोग इस बात पर ध्यान नहीं देते | पर इससे हमारा ही नुक्सान हैं | वैसे देखा जाएँ तो इसकी वजह भी हम ही  हैं | हम अपने काम एवं जिम्मेदारियों में इतनी खो गए हैं कि हम अपने जीवन की सबसे अमूल्य वस्तु अपने स्वास्थ्य को ही भुल गए हैं | एक अच्छी नींद हमारे शरीर के कई रोगों को दूर करती हैं या रोगों को हमारे पास फटकने भी नहीं देती हैं | आइए हम सबसे पहले नींद न आने के कारणों को देखते हैं , फिर उसके दुष्प्रभाव एवं उसके बाद अच्छी नींद के उपाय को देखते हैं |

0 Comments

सन्स्क्रीन : आपके त्वचा को धूप की पराबैंगनी किरणों से बचाए

सन्स्क्रीन : जरूरी क्यों  चाहे मौसम कोई भी हो हमारे  चेहरे एवं त्वचा की ख़ास देखभाल जरुरी हैं | विशेषकर गर्मी के दिनों में धूप तेज निकलती हैं तथा उसमें पराबैंगनी किरणों की मात्रा भी ज्यादा होती हैं | हम सभी धूप से बचने हेतु कोई न कोई उपाय जरुर करते हैं , कुछ लोग छाता लेकर चलते हैं , कुछ लोग लोग अपने अपने चेहरे को स्टाल या सूती टावल से बाँध लेते हैं जबकि कुछ लोग बिना किसी वस्तु के प्रयोग के धूप में यू ही काम करते हैं या निकलते हैं | आपने अक्सर बाजारों में या अन्य स्थानों पर किसी मजदूर को काम करते हुए देखा होगा , पर क्या आपने धूप के प्रभाव से उसके शरीर पर एवं चेहरे पर पड़ी काली लकीरों या कालेपन को देखा | ये कालापन कुछ और नहीं बल्कि धूप का प्रभाव हैं |अगर हम दूप एवं उसकी पराबैंगनी किरणों से स्वयं की रक्षा नहीं करंगे तो हो सकता हैं हमें पराबैंगनी किरणों से त्वचा कैंसर हो

0 Comments

शब्द और अनुभव – जीवन और जीवन का सार

शब्द और अनुभव , जीवन सम्भावनाओं का आश्रय हैं । जीवन मे हम कई तरह के कार्य करते है एवं अनुभव प्राप्त करते हैं । पर जीवन मे दो बातें मेरे दृष्टिकोण से महत्त्वपूर्ण हैं । अगर हम बोले गए शब्दों जी बात करे तो वह केवल शब्द ही नही बल्कि हमारे द्वारा जीवन रूपी बागीचे में बोया गया बीज हैं , जिससे नवोदभिद पौधें निकालकर हमारे जीवन

0 Comments
Close Menu